Bewafa Shayari In Hindi

जब रूह में उतर जाता हैं बेपनाह इश्क का समंदर, लोग जिंदा तो होते हैं मगर किसी और के अंदर।

 

jab rooh mein utar jaata hain bepanaah ishk ka samandar, log jinda to hote hain magar kisee aur ke andar.

 

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है; ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है; देकर वो आपकी आँखों में आँसू; अकेले में वो आपसे ज्यादा रोता है।

 

mazabooree mein jab koee juda hota hai; zarooree nahin ki vo bevafa hota hai; dekar vo aapakee aankhon mein aansoo; akele mein vo aapase jyaada rota hai.

Leave a Comment

Your email address will not be published.