Funny Shayari, फनी शायरी 871+

यारों की यारी भी खिचड़ी से कम नहीं,
स्वाद भले ही न रहे पर कमबख्त भूख मिटा देती है

 

yaaron kee yaaree bhee khichadee se kam nahin,
svaad bhale hee na rahe par kamabakht bhookh mita detee hai

1 thought on “Funny Shayari, फनी शायरी 871+”

Comments are closed.