Romantic Shayari 352+ || रोमांटिक शायरी

जीता हूँ बस तुम्हारा ही नाम लेकर,
जाने इसका क्या अन्जाम होगा !
मर गया कभी तो उठा कर देख लेना कफ़न मेरा,
इन होंठों पर बस तुम्हारा ही नाम होगा !!

Jeeta hoon bus tumhara hi naam lekar,
Jaane iska kya anjaam hoga .
Mar jaau kabhi to utha ke dekh lena kafan mera,
In hontho par bus tumhaara hi naam hoga .

कीमत पानी की नहीं बल्कि प्यास की होती है,
मोहब्बत हर किसी से नहीं बल्कि एक ख़ास से होती है !
यूं तो लव बहुत लोग करते हैं इस दुनिया में,
लेकिन कीमत लव की नहीं विश्वास की होती है !!

Keemat paani ki nahi balki pyaas ki hoti hai,
Mohabbat har kisi se nahi balki ek khaas se hoti hai .
Love to bahut log karte hain is duniya mein,
Lekin keemat love ki nahi vishwaas ki hoti hai ..

तुमसे इश्क़ है हमें इससे इंकार नहीं,
कौन कहता है कि हमें तुमसे प्यार नहीं !
करता हूँ मैं वादा तुम्हारा साथ देने का,
बस हमें अपनी साँसों पर एतबार नहीं !

Tumse ishq hai humein isse inkaar nahi,
Kaun kehta hai ki humein tumse pyar nahi .
Karta hoon main vaada tumhara sath dene ka,
Bus humein apni saanso par ehbaar nahi …

उनके इश्क़ की दस्तक़,
भी बड़ी अजीब थी !
ना उन्होंने अपना बनाया,
और ना ही किसी और का और का हमें होने दिया !!

Unke ishq ki dastak ,
Bhi badi ajeeb thi .
Naa unhone apna banaya ,
Aur naa hi kisi aur ka humein hone diya ..

मेरे दिल की गहराइयों में,
जबसे तुमने रखे हैं कदम !
तुम्हारे नाम तब से लिख दी है,
हमने अपनी यह ज़िन्दगी सनम !!

Mere dil ki gehrayion mein
Jabse tumne rakhein hain kadam .
Tumhare naam tab se likh di hai,
Humne apni yeh zindagi sanam