तत्सम तद्भव शब्द किसे कहते हैं?

तत्सम तद्भव शब्द किसे कहते हैं | की परिभाषा | तत्सम और तद्भव शब्द के उदाहरण  – TATSAM TADBHAV SHABD KISE KAHATE HAIN IN HINDI

तत्सम तद्भव शब्द किसे कहते हैं | की परिभाषा | तत्सम और तद्भव शब्द के उदाहरण - tatsam tadbhav shabd kise kahate hain in hindi

दोस्तो हिंदी भाषा में आप निम्नलिखित प्रकार के शब्द संग्रह को देख सकते हैं.

1. तत्सम शब्द (TATSAM )

2. तद्भव शब्द (TADBHAV

3. देशी शब्द

4. विदेशी शब्द

5. अन्य शब्द

इस POST में हम केवल 1. तत्सम और 2. तद्भव SHABDON को विस्तार में जानेंगे?

तत्सम शब्द किसे कहते हैं! परिभाषा

यह शब्द (SANSKRIT BHASHA) के प्रमुख दो शब्दों 1. तत् + 2. सम् से मिलकर बनाया गया है. जिसमे तत् का अर्थ (ARTH) है – उसके , और सम् का अर्थ (ARTH) है – समान. मतलब – ज्यों का त्यों.
अर्थात
जिन शब्दों को SANSKRIT BHASA में से बिना किसी परिवर्तन के ले लिया जाता है, तत्सम शब्द कहते हैं.

इन SHABDON का ध्वनि परिवर्तन नहीं होता है. हिन्दी. बांग्ला. PUNJABI. तेलुगू. कन्नड. कोंकणी. MARATHI. गुजराती. मलयालम. सिंहल भाषा में बहुत से SHABD संस्कृत के कुछ शब्दों को सीधे ले लिए गये हैं, क्योंकि इनमें से कई भाषाएँ संस्कृत से जन्मी हैं.

उदाहरण के लिए
आम्र . क्षेत्र . अज्ञान . अग्नि . अन्धकार . अमूल्य . चंद्र आदि.

तद्भव शब्द किसे कहते हैं! परिभाषा

TATSAM SHABDON में समय और परिस्थितियों के कारण कुछ परिवर्तन करके बनाए गए शब्द को ही, तद्भव (TADBHAV) कहते हैं.

दो शब्दों से मिलकर बना है.1. तत् + 2.भव . तद्भव का शाब्दिक अर्थ (ARTH) है – उससे बने (तत् + भव = उससे उत्पन्न),

अर्थात जो SHABD संस्कृत से ही उत्पन्न हुए हैं. यहाँ पर तत् शब्द भी संस्कृत भाषा की ओर इंगित करता है. अर्थात जो SANSKRIT से ही बने हैं. इन शब्दों की यात्रा संस्कृत से आरंभ होकर पालि , प्राकृत , अपभ्रंश भाषाओं के पड़ाव से गुजरी है! और आज तक चल रही है!

इसके कुछ उदाहरण EXAMPLE!
मुख से मुँह
दुग्ध से दूध
ग्राम से गाँव
भ्रातृ से भाई
अज्ञान से अजान
कर्म से काम

तत्सम और तद्भव शब्द की पहचान के नियम (TATSAM TADBHAV SHABD PAHCHAN)
यदि तत्सम वाले SHABDON के पीछे ‘क्ष’ वर्ण का PRAYOG होता है और तद्भव वाले शब्दों के पीछे ‘ख’ या ‘छ’ शब्द का PRAYOG हो जाता है. जैसे – पक्षी = पंछी
यदि तत्सम शब्दों में ‘श्र’ का PRAYOG है  तो तद्भव वाले शब्दों में ‘स’ का PRAYOG हो जाता है. जैसे – धन्नश्रेष्ठी = धन्नासेठी
यदि TATSAM वाले शब्दों में ‘श’ का प्रयोग होता है और TADBHAV शब्दों में ‘स’ का प्रयोग हो जाता है. जैसे – दिपशलाका = दिया सलाई
यदि तत्सम वाले शब्दों में ‘ष’ वर्ण का PRAYOG होता है.तो स होता है. जैसे – कृषक = किसान
तत्सम शब्दों में ‘र’ की MATRA का प्रयोग होता है. जैसे – आम्र = आम
तत्सम शब्दों में व’ का प्रयोग होता है. OR तद्भव शब्दों में ब’ का प्रयोग होता है. जैसे – वन = बन
TATSAM शब्दों में ‘ऋ’ की मात्रा का प्रयोग होता है. जैसे – कृतगृह = कचहरी

तत्सम और तद्भव शब्द (TATSAM TADBHAV SHABD) के उदाहरण

तत्सम शब्द तद्भव शब्द
अकस्मात अचानक
आलस्य आलस
अशीति अस्सी
ओष्ठ ओंठ
आम्र आम
अगम्य अगम
अमृत अमिय
अंध अँधा
अर्द्ध आधा
अश्रु आँसू
आश्चर्य अचरज
अक्षि आँख
अमूल्य अमोल
अग्नि आग
अंधकार अँधेरा
अक्षर अच्छर
अंगरखा अंगरक्षक
आश्रय आसरा
आशीष असीस
अन्न अनाज

दोस्तों हम आपको बता दें कि इस ARTICLE के अंदर हमने कुछ ही UDAHARAN दिए हैं. सभी उदाहरण पाने के लिए आप पीडीएफ फाइल डाउनलोड कर सकते हैं. पीडीएफ फाइल डाउनलोड करने हैं.

तो आप हमें COMMENT कर बता सकते हैं. ताकि हम आपके लिए पीडीएफ बाय फाइल उपलब्ध करा सके उसमें, हम अ लेकर ज्ञ तक सभी तत्सम तद्भव शब्दों के नाम का पीडीएफ आपको प्रदान करेंगे.

Leave a Comment